साको-363 अमृता की खेजड़ी” फिल्म की शूटिंग बाड़मेर में

मुंबई: अभिनेत्री ग्रेसी सिंह “साको -363 अमृता की खेजड़ी ” शीर्षक से एक फिल्म में मुख्य भूमिका निभाई जा रही है। हिंदी फिल्मो की अभिनेत्री ग्रेसी सिंह द्वारा लगान और गंगाजल जेसी महत्वपूर्ण फिल्म में अभिनय किया गया है. फिल्म अपने वनस्पतियों और जीव को बचाने के लिए 283 साल पहले सावंत 1730 में घटित एतिहासिक एक सच्ची घटना पर आधारित है जहाँ लड़ने वाले 363 बिश्नोई अमृता देवी के नेत्रित्व में शहीद हो गए थे। इस फिल्म में भी अभिनेता रघुवीर यादव, विश्वजीत यादव, राज प्रेमी, राजेश सिंह, प्रेरणा त्रिवेदी, रामरतन बिश्नोई ,सूरज बिश्नोई और आशीष आदि है।

ओमप्रकाश ढाका ने बताया की यह संयुक्त रूप से सूरज बिश्नोई और कल्याण सीरवी मरुधरा फिल्म मुंबई द्वारा निर्मित है। बाड़मेर, राजस्थान में फिल्म की शूटिंग कई दिनों से जारी है। दिसंबर महीने तक फिल्म के सिनामघरो में आने की संभावना है.

प्रताप बिश्नोई जापान में पेश करेंगे शोध पत्र

नागौर. भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान, मुम्बई के युवा शोधार्थी वैज्ञानिक प्रताप बिश्नोई को विस्फोटक पदार्थो पर अनुसंधान करने के लिए जापान के प्रसिद्ध क्योटो विश्वविद्यालय की तरफ से अनुसंधान पत्र वाचन के लिए आमंत्रित किया गया है।

वे 18 से 21 जून तक क्योटो विश्वविद्यालय में होने वाले अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन “चैलेंजज इन ऑर्गेनिक मेटेरियल्स एण्ड सुपरमोलेक्युलर केमिस्ट्री 2013″ में शोध पत्र पेश करेंगे। प्रताप जिले के बू कर्मसोता ग्राम के निवासी हैं।
http://www.patrika.com/news.aspx?id=1066898

मध्यक्षेत्र विश्नोई समाज का २४ वा सामूहिक विवाह समारोह २३/४/१३

मध्यक्षेत्र विश्नोई सभा के तत्वावधान में मंगलवार को जम्भेश्वर मंदिर में सामूहिक विवाह समारोह आयोजित किया गया। इस दौरान 33 जोड़ों का पारंपरिक रीति-रीवाज के साथ विवाह संपन्न कराया गया। इसमें वर-वधुओं ने सात जन्मों तक साथ जीने की शपथ ली। समारोह में प्रदेश के पशुपालन मंत्री अजय विश्नोई और विधायक कमल पटेल विशेष रूप से मौजूद थे। समारोह में प्रदेश के अलावा देश के अलग-अलग राज्यों से भी समाज के लोग शामिल हुए। जाम्भानी साहित्य अकादेमी का एक प्रतिनिधिमंडल , आर . के . बिश्नोई , डॉ के . एल . बिश्नोई ,राजकुमार सेवक , योगेन्द्रपाल बिश्नोई भी विशेष रूप से मौजूद थे। प्रतिनिधिमंडल ने वंहा सामूहिक विवाह में भाग लिया तथा चोथे जाम्भानी नेशनल सेमिनार को लेकर वंहा की बिश्नोई सभा से विचार विमर्श किया।
सामूहिक विवाह को लेकर सुबह से गतिविधियां शुरू हो गई थी। मंदिर में सुबह साढ़े सात बजे से 9 बजे तक हवन हुआ। इसमें विश्व कल्याण के लिए आहूतियां छोड़ी गई। इसके बाद सामूहिक विवाह समारोह का शुभारंभ हुआ। सामरोह में गाजे-बाजे के साथ बारात निकाली गई। इसमें समाज के लोग शामिल हुए। पारंपरिक रीति-रीवाजों को निभाते हुए दूल्हे मंडप तक पहुंचे।
जम्भेश्वर मंदिर परिसर में हवन कुंड में प्रज्वलित अग्नि हो साक्षी मानकर वर-वधु ने फेरे लिए। उन्होंने एक-दूसरों को सात फेरों में सात वचन दिए और ताउम्र निभाने का वादा किया। मंत्रोच्चार के बीच हुए फेरों के बाद वर-वधु ने अपने नए जीवन का आगाज किया। उन्होंने अपने वरिष्ठजनों, परिजनों और गुरू से आशीर्वाद प्राप्त किया।
समारोह में बेटे-बेटी का भी विवाह
करीब 24 वर्ष पहले पांचातलाई निवासी सुरेश बेनीवाल जम्भेश्वर मंदिर में हुए सामूहिक विवाह समारोह में परिणय सूत्र में बंधे थे। आज उनके पुत्र और बेटी का भी विवाह संपन्न हुआ। सामूहिक विवाह का मुख्यन उद्देश्य कम खर्च,समय की वचत व समय के साथ लोंगो मैं समानता लाना और समाज को संगठित करना हैं, सभी नवयुगल को हार्दिक शुभकामनाये…!!! from anirudha bishnoi nimgaon – harda mp

http://adf.ly/1224818/etv-rajasthan

http://adf.ly/1224818/etv-rajasthan
ETV RAJSTHAN ONLINE

HOLY MILAN SAMAROH – 2013

HOLY MILAN SAMAROH -2013

मुकाम में परवान पर है फाल्गुन मेला

हिम्मटसर/नोखा- बिश्नोई समाज के मुख्य धार्मिक स्थल मुकाम में फाल्गुन अमावस्या पर भरने वाला मेला रविवार को परवान चढऩे लगा।विष्णु विष्णु तूं भण रे प्राणी के जयकारों के साथ मुकाम में स्थित श्री गुरू जंभेश्वर महाराज की समाधि पर श्रद्धालुओं के धोक लगाने का क्रम रविवार को दिन भर चलता रहा। रविवार को मंदिर परिसर श्रद्धालुओं से भर गया। अखिल भारतीय बिश्नोई महासभा की ओर से सोमवार को सुबह 11 बजे से समाज के खुले अधिवेशन का आयोजन किया जाएगा। महासभा के महामंत्री रामसिंह पंवार ने बताया कि सम्मेलन में पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, हिसार सांसद कुलदीप बिश्नोई, भाजपा प्रदेशमंत्री पब्बारम बिश्नोई, बीकानेर सांसद अर्जुनराम मेघवाल, जिला प्रमुख रामेश्वर डूडी, बीकानेर विधायक सिद्धि कुमारी सहित कई अतिथि पहुंचेंगे। पंवार ने बताया कि अमावस्या रविवार रात को दो बजकर 29 मिनट पर लगेगी व 11 मार्च की रात को एक बजकर 20 मिनट पर उतरेगी। मुकाम में अखिल भारतीय बिश्नोई महासभा के पदाधिकारियों की बैठक, शीघ्र ही ऑनलाइन होंगे महासभा के चुनाव ।
from – http://www.bhaskar.com/article/RAJ-BIK-c-196-75198-NOR.html

ABBYS’S BPL-3 , 24 TO 27 JAN-2013

बिशनोई समाज – सूरत का प्रोग्राम संपन..

सूरत . परम पूज्य प्रात स्मरणीय स्वामी श्री भागीरथदासजी आचार्य के सानिध्य में सूरत के नियोल गाँव बिश्नोई समाज की नवनिर्मित धर्मशाला में वार्षिक कार्यकर्म संपन्न हुआ।
इस अवसर पर दिनांक 29 /12 /2012 शनिवार रात्रि भजन संध्या हुई जिसमे कलाकार राजूराम महाराज, स्वामी सदानंद जी एवं उनके सहयोगि कलाकारों ने
भजन संध्या को रंगारंग रूप दिया ,रविवार प्रातः 30/12/2012 सदगुरुदेव स्वामी भागीरथदासजी
आचार्य के द्वारा शब्द्वानी का पाठ हवन और पाहल का आयोजन किया गया. बिश्नोई समाज की और से महापर्शाद की वयवस्था की गई .
सूरत समेत मुंबई, अहमदाबाद, वड़ोदरा और नवसारी से समाज के लोग पधारे मेहमानों को संबोधित करते हुए प्रात स्मरणीय स्वामी श्री भागीरथदासजी आचार्य ने कहा की उन्तिश नियमों पर चलते हुए समाज सेवा करें। व नशा मुक्त जीवन जियें। हमारा समाज पर्गती कर रहे हैं ठीक उसी तरह से आज समाज मैं बहुत कुरीतियाँ पैर पसार रही हैं. जैसे – बाल विवाह , दहेज़ पर्था ,नशा वर्ती , मृतुभोज, इन सब को रोकने के लिए युवा पीढ़ी को आगे आना होगा। समाज को मज़बूत बनाने के लिए हर
संभव सहयोग किया जायेगा। इस अवसर पर जम्भ साधना मासिक पत्रिका के ब्यूरो चीफ मुंबई हरीश बिश्नोई ने भी शिरकत की और पत्रिका के बारे लोगो को जानकारी दी।
— किशन बिश्नोई

जाम्भाणी साहित्य अकादमी भवन का शिलान्यास

बीकानेर। जाम्भाणी साहित्य में पर्यावरण संरक्षण व नैतिक जीवन का संदेश है। इस तरह के साहित्य के सृजन और संरक्षण के लिए विशेष योजना बनानी चाहिए।
यह सुझाव सांसद अर्जुनराम मेघवाल ने रविवार को जयनारायण व्यास कॉलोनी में जाम्भाणी साहित्य अकादमी भवन के शिलान्यास समारोह में दिया। उन्होंने कहा कि यहां संत जांभोजी से संबंघित साहित्य को संरक्षित किया जा सकेगा। साथ ही शोधार्थियों के लिए भी यह एक बड़ा केन्द्र बन सकेगा।
कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि जिला प्रमुख रामेश्वर डूडी ने कहा कि संत जांभोजी बिश्नोई संप्रदाय के प्रवर्तक होने के साथ-साथ मरूधरा के महापुरूष थे। उनके बताए 29 नियमों को जीवन में आत्मसात किया जाए तो समाज की दशा और दिशा बदल सकती है। इस अवसर पर महापौर भवानीशंकर शर्मा ने कहा कि नगर निगम जांभाणी साहित्य अकादमी भवन के पास के पार्क का सौन्दर्यन कराएगा।
जोधपुर के पूर्व सांसद जसवंतसिंह बिश्नोई की अध्यक्षता में हुए समारोह को मुकाम पीठाधीश्वर रामानंद आचार्य, जाजीवाल धोरा के स्वामी भागीरथदास आचार्य, रूकड़ली के महंत शिवदास शास्त्री, समराथल धोरा के स्वामी रामाकृष्ण, समाज कल्याण बोर्ड की अध्यक्ष विजयलक्ष्मी बिश्नोई, राजस्थानी भाषा साहित्य एवं संस्कृति अकादमी के अध्यक्ष श्याम महर्षि व एलआर बिश्नोई ने संबोघित किया। इससे पहले अतिथियों ने अकादमी भवन की आधारशिला रखी।
जाम्भाणी साहित्य अकादमी के अध्यक्ष स्वामी कृष्णानंद आचार्य ने आभार जताया। इस मौके पर अकादमी के लिए भूखण्ड भेंट करने वाली डॉ. सरस्वती बिश्नोई का अभिनंदन किया गया।
सहयोग की घोषणा
कार्यक्रम में सांसद मेघवाल ने अकादमी भवन के लिए अपने कोटे से बीस लाख तथा यूआईटी की ओर से अध्यक्ष मकसूद अहमद ने दस लाख रूपए देने की घोषणा की। अकादमी भवन निर्माण के लिए बिश्नोई समाज के लोगों ने सहयोग राशि दी और भविष्य में भी देने की घोषणा की।
खेजड़ी के लिए प्रोजेक्ट
सांसद मेघवाल ने रेगिस्तान में पर्यावरण संरक्षण के लिए खेजड़ी वृक्ष को बढ़ावा देने की बात कही। उन्होंने कहा कि खेजड़ी का अघिक से अघिक बीजारोपण करने और पौधे के वृक्ष बनने तक उसके संरक्षण के लिए प्रोजेक्ट बनाया जाएगा। इसे महानरेगा में शामिल करने का प्रस्ताव संसद में रखा जाएगा।
http://www.rajasthanpatrika.com/news/Bikaner/11122012/city-news/392920

नेशनल साइक्लिंग में बिश्नोई को स्वर्ण

जयपुर. मुजफ्फरपुर में चल रही नेशनल साइक्लिंग चैंपियनशिप में राजस्थान के राजेंद्र बिश्नोई व उनके भाई सुरेश ने टीम स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीत लिया। रेलवे का प्रतिनिधित्व करते हुए उन्होंने 60 किमी टीम टाइम ट्रायल स्पर्धा में बाजी मारी। इस टीम में अमनदीप व अरविंद पवार भी शामिल थे। रेलवे की टीम ने एक घंटा 22 मिनट का समय लेकर स्वर्ण जीता। मेजबान बिहार की टीम दूसरे स्थान पर रही। वहीं अंडर-18 वर्ग में 40 किमी टीम टाइम ट्रायल में राजस्थान टीम ने रजत पदक जीता। राजस्थान टीम में बीकानेर के सुरेंद्र, कालूराम, राकेश व राजेश शामिल थे।
http://www.bhaskar.com/article/RAJ-JAI-bishnoi-of-the-national-cycling-gold-3939451.html

Previous